लखनऊ: पुलिस कर्मचारियों ने अंतर्धार्मिक विवाह को रोक दिया, बोले पहले DM से लेनी होगी अनुमति

लखनऊ: पुलिस कर्मचारियों ने अंतर्धार्मिक विवाह को रोक दिया, बोले पहले DM से लेनी होगी अनुमति

लखनऊ: पुलिस कर्मचारियों ने अंतर्धार्मिक विवाह को रोक दिया, बोले पहले DM से लेनी होगी अनुमति 

 

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में धर्मातरण के कानून बनाने के बाद लखनऊ पुलिस कर्मचारियों ने हो रही एक आपसी अंतर धार्मिक हो रही शादी को रुकवा दिया 

ये घटना बुधवार की शाम को आपसी रजामंदी से एक हिन्दू युवती ने एक मुस्लिम युवक से शादी कर रही थी| जिसे सुनते ही पुलिस के कर्मचारियों ने शादी रुकवा दी| पुलिस ने दोनों तरफ के लोगो को नए धर्मातरण कानून को बताते हुए कहा की पहले इस शादी के लिए DM से अनुमति लेनी होगी|

 

कुछ हिन्दू विरोधीयो ने यह सुचना पुलिस को दी

 

यह मामला उत्तर प्रदेश के लखनऊ के पारा थाना का है| जहा नरपत खेडा डूडा कॉलोनी में बिना अपना धर्म परिवर्तन किये एक हिन्दू युवती, मुस्लिम युवक से शादी करने जा रही थी| इस बेगुनियद शादी का पता चलते ही  पुलिस के कर्मचारियों ने शादी को रोक दिया| सोर्सेस के मुताबिक कुछ हिन्दू विरोधियों ने इस शादी का पता चलते ही पुलिस ने जा कर शादी को रोक दिया| लड़के के घर वालो की माने तो यह शादी दोनों परिवार के रजामंदी से हो रही थी| 

 

पुलिस ने कानून का हवाला देते हुए रोकी शादी 

 

पुलिस ने कानून का हवाला देते हुए शादी को रोक दिया, यूपी में धर्म विरुद्ध परिवर्तन कानून को बताते हुए पुलिस ने जिलाधिकारी से शादी की अनुमति लेने को कहा| “एडिशनल डिपटी कमिशनर ऑफ़ पुलिस” सुरेंद्र सिंह रावत ने कहा है की बुधवार २ दिसम्बर की रात पता चला की एक हिन्दू लड़की मुस्लिम लड़के से शादी करना चाह रही है|

 

लड़के ने आश्वाशन देते हुए कहा की सब कुछ कानून के तहत ही होगा

 

लड़के के भाई ने कहा की उन्होंने पुलिस को लिखित में आशावाशन दिया है की सब कुछ नए कानून के तहत ही होगा और जिलाधिकारी से अनुमति लेकर ही शादी होगी और अनुमति नहीं मिलती है तो शादी नहीं होगी| आगे उसने कहा की कानून से बढ़कर कुछ भी नहीं है हमें इसकी इज़्ज़त करनी चाहिए हिन्दू लड़की पछ से कोई भी व्यक्ति मीडिया से बात करने के लिए नहीं आया|      

Related posts

Leave a Comment